Track Order    
29%
OFF

Tulsi Mala

1100 1551
अभिमंत्रित तुलसी माला को धारण करने से तुलसी के सभी लाभ मिलते है और यह कई रोगों से भी दूर रखती है।
Availability : In Stock
Delivery : Within 3 - 5 Business Days
Free Shipping : All over India
Whatsapp Number : 9319771309
Order on Call : 9319771309
Price :
1100 1551
Share Product :

Specification

Delivery : डिलीवरी पर कोई शुल्क नही और COD सुविध भी उपलब्ध है

Description

तुलसी माला

तुलसी का एक हिन्‍दु परिवार के लिए क्‍या महत्‍व है वो किसी से छुपा नहीं है। एक समय ऐसा भी था जब प्रत्‍येक हिन्‍दु पर‍िवार में एक तुलसी का पौधा जरूर हुआ करते थे। लेकिन अब ऐसा संभव नहीं है। इसी का समाधान है यह अभिमंत्रित तुलसी माला।

इसलिए इस अभिमंत्रित तुलसी माला को धारण करने से तुलसी के सभी लाभ मिलते है और यह कई रोगों से भी दूर रखती है।

तुलसी माला के लाभ

  • यह शरीर और आत्‍मा के शुद्धिकरण का काम करती है इसलिए शरीर स्‍वस्‍थ व हर प्रकार के तनाव से बचा रहता है।
  • किसी भी तरह के फंगल इंफेक्‍शन से भी यह माला बचाती है और उसका समाधान करने में कारगर है।
  • अगर किसी को यह लगता हो कि वह अकाल मृत्‍यु का शिकार होगा तो ऐसे व्‍यक्ति‍ को भी इस माला को धारण करना चाहिए।

कैसे करें धारण

सबसे पहले तो इस अभिमंत्रित तुलसी माला को प्राप्‍त करें। स्‍वच्‍छ हाथों से इसको स्‍पर्श करें और किसी भी दिन इसे धारण करें। यदि इसे धारण न करना चाहते हों तो मंदिर में रखना भी लाभकारी होगा। 

Add a Review

Your email address will not be published.

Review

there are no reviews yet

Related Products
29%
OFF
Kamal Gatte ki Mala (कमलगट्टे की माला)
यह माला कमल के बीजों से ही बनाई जाती है और मां लक्ष्‍मी को विशेष प्रीय होने के कारण इसको प्रसाद रूप में चढ़ाया और धारण किया जाता है।
1551 1100
Quick View
29%
OFF
Tulsi Mala
अभिमंत्रित तुलसी माला को धारण करने से तुलसी के सभी लाभ मिलते है और यह कई रोगों से भी दूर रखती है।
1551 1100
Quick View
19%
OFF
Lal Gunja Mala
गुंजा बहुत ही चमत्‍कारी बीज है। लाल गुंजा का इस्‍तेमाल धन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए होता है। मां लक्ष्‍मी को प्रीय गुंजा के बीज मां की पूजा के दौरान उनको चढ़ाना बहुत ही फलदायक माना जाता है।
2151 1751
Quick View
12%
OFF
7 Chakra Mala
7 चक्र माला में लगे 7 रंग के मनके विशेष रूप से शरीर में स्‍थ‍ित सात चक्रों के जागरण को प्रेरित करते हैं। इसी उद्देश्‍य को ध्‍यान में रखकर ही इसे अभिमंत्रित भी किया गया है।
2551 2251
Quick View
.