Track Order    

Rudraksha

रुद्राक्ष (Rudraksha) भगवान शिव को अतिप्रिय है। माना जाता है कि जो लोग रुद्राक्ष धारण करते हैं, उनके ऊपर भगवान शिव की विशेष कृपा रहती है। रुद्राक्ष धारण करने के धार्मिक ही नहीं बल्कि स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं, जैसे रक्तचाप, हृदय रोग आदि में भी रुद्राक्ष धारण करना लाभदायक माना जाता है। 1 मुखी रुद्राक्ष से लेकर 21 मुखी रुद्राक्ष तक पाए जाते हैं। इन सभी रुद्राक्ष की अपनी एक अलग महिमा होती है। हिन्दू धर्म में मान्यता है कि इसे धारण करने से संकटों का नाश होता है व जातक को ग्रहों की अशुभता से भी मुक्ति मिलती है। रुद्राक्ष धारण करने के कई फायदे हैं, लेकिन रुद्राक्ष धारण करने से पहले इससे जुड़े नियमों को जानना बेहद आवश्यक होता है।

रुद्राक्ष धारण करने के नियम -

  • रुद्राक्ष को कभी भी काले धागे में धारण नहीं करना चाहिए इसे हमेशा लाल या पीले रंग के धागे में ही धारण करें।
  • रुद्राक्ष बेहद पवित्र होता है इसलिए इसे कभी अशुद्ध हाथों से न छुएं और स्नान करने के बाद शुद्ध होकर ही इसे धारण करें।
  • रुद्राक्ष को सोमवार के दिन शिव जी के मंत्र ऊं नमः शिवाय का उच्चारण करके धारण करना चाहिए।
  • स्वयं का पहना हुआ रुद्राक्ष कभी भी किसी दूसरे को धारण करने के लिए नहीं देना चाहिए।
  • रुद्राक्ष को वैसे तो केवल धागे में माला की तरह पिरोकर भी धारण किया जा सकता है, लेकिन इसके अलावा आप चांदी या सोने में जड़वाकर भी रुद्राक्ष धारण कर सकते हैं।
  • रुद्राक्ष धारण करने वालों को मांस, मदिरा या अन्य किसी भी प्रकार से नशीली चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।
दो मुखी रुद्राक्ष (2 Mukhi Rudraksha) पर भगवान शिव और मां पार्वती की कृपा बरसती है। इस रुद्राक्ष के दो मुख हैं जो कि भगवान शिव और मां पार्वती को अर्धनारीश्‍वर रूप में दर्शाते हैं। दाम्‍पत्‍य सुख के लिए इस रुद्राक्ष को पहना जाता है।
1250
Buy Now
तीन मुखी रुद्राक्ष को स्‍वयं अग्‍नि देव का रूप माना जाता है। इसमें अग्‍नि देव की तरह की तेज और ऊर्जा होती है। जिस तरह अग्‍नि सोने को शुद्ध कर देती है, उसी तरह अग्‍नि स्‍वरूव तीन मुखी रुद्राक्ष भी धारणकर्ता के तन और मन को शुद्ध कर देता है।
1250
Buy Now
पांच मुखी रुद्राक्ष पहनने से पांच देवी-देवताओं की कृपा मिलती है। इस रुद्राक्ष को संसार में कालाग्नि माना गया है। इस रुद्राक्ष से शरीर के पांचवे चक्र विशुद्ध चक्र से संबंध है। 5 मुखी रुद्राक्ष का स्‍वामी ग्रह बृहस्‍पति हैं इसलिए इस रुद्राक्ष को धारण करने से बृहस्‍पति से जुड़े लाभ भी मिलते हैं।
1250
Buy Now
14%
OFF
7 Mukhi Rudraksha (सात मुखी रुद्राक्ष)
सात मुखी रुद्राक्ष महालक्ष्‍मी का प्रतीक है। इसे धारण करने से सुख, संपत्ति और भाग्‍य की प्राप्‍ति होती है। अगर आप आर्थिक तंगी या धन की कमी से परेशान हैं तो आपको सात मुखी रुद्राक्ष धारण करने पर मां लक्ष्‍मी की कृपा से पैसों की तंगी से मुक्‍ति मिलती है।
2100 1800
Buy Now
9%
OFF
8 Mukhi Rudraksha (आठ मुखी रुद्राक्ष)
सभी रुद्राक्षों में से आठ मुखी रुद्राक्ष सबसे ज्‍यादा फायदेमंद होता है क्‍योंकि ये मंगलकारी भगवान गणेश का प्रतीक है। जीवन में आ रही समस्‍याओं को दूर करने और बुद्धि को बढ़ाने के लिए इस रुद्राक्ष को पहना जाता है।
4500 4100
Buy Now
14%
OFF
9 Mukhi Rudraksha (9 मुखी रुद्राक्ष)
नौ रूपों वाली नवदुर्गा को 9 मुखी रुद्राक्ष समर्पित है। ये रुद्राक्ष जीवन के सभी सुखों और मोक्ष को पाने में मदद करता है। इस रुद्राक्ष में मां दुर्गा की शक्तियां समाहित हैं। भौतिक सुख के साथ-साथ अध्‍यात्‍म की गहराईयों को जानने के लिए यह रुद्राक्ष पहन सकते हैं।
4750 4100
Buy Now
28%
OFF
10 Mukhi Rudraksha (दस मुखी रुद्राक्ष )
दस मुखी रुद्राक्ष दसों दिशाओं से आपको ऊर्जा देता है। यह रुद्राक्ष भगवान कृष्‍ण का प्रतीक है। इस रुद्राक्ष को पहनने से नौ ग्रहों का बुरा प्रभाव भी दूर होता है। दस मुखी रुद्राक्ष में भगवान कृष्‍ण की शक्‍तियां समाहित हैं।
7100 5100
Buy Now
28%
OFF
11 Mukhi Rudraksha (ग्‍यारह मुखी रुद्राक्ष )
ग्‍यारह मुखी रुद्राक्ष को एकादश रुद्राक्ष भी कहा जाता है। ये रुद्राक्ष 11 रुद्रों को दर्शाता है। इस रुद्राक्ष को पहनने से नौ ग्रहों के दुष्‍प्रभाव दूर होते हैं। 11 मुखी रुद्राक्ष से विशुद्ध चक्र संबंधित है जो कि सुनने की क्षमता को प्रभावित करता है।
7100 5100
Buy Now
28%
OFF
12 Mukhi Rudraksha (बारह मुखी रुद्राक्ष)
बारह मुखी रुद्राक्ष भगवान सूर्य को समर्पित है। मस्तिष्‍क पर सूर्य का प्रभाव होता है। इस रुद्राक्ष को धारण करने से व्‍यक्‍ति को स्‍वयं की शक्‍ति का अहसास होता है। इसके प्रभाव से जातक के व्‍यक्‍तित्‍व में भी सूर्य की तरह तेज आता है।
10550 7550
Buy Now
30%
OFF
13 Mukhi Rudraksha (तेरह मुखी रुद्राक्ष)
तेरह मुखी रुद्राक्ष इच्‍छाओं की पूर्ति करता है। ये रुद्राक्ष कामदेव को दर्शाता है जो कि आकर्षण और इच्‍छाओं के देवता हैं। कामदेव की कृपा से व्‍यक्‍ति सपनों नहीं बल्कि वास्‍तविक दुनिया में जीता है।
11500 8100
Buy Now
32%
OFF
14 Mukhi Rudraksha (चौदह मुखी रुद्राक्ष)
चौदह मुखी रुद्राक्ष को देव मणि भी कहा जाता है। इस शक्‍तिशाली रुद्राक्ष पर हनुमान जी की कृपा बरसती है। इसे धारण करने से व्‍यक्‍ति को हनुमान जी की तरह शक्‍ति और साहस की प्राप्‍ति होती है।
31000 21000
Buy Now
.